गूगल मीट क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे करें?

गूगल में एक प्रकार का वीडियो कॉलिंग टूल है। गूगल ने अपने वीडियो कॉलिंग टूल गूगल मीट को अब सीधे जीमेल में उपलब्ध कर दिया है। गूगल मीट अब जीमेल वेब में उपलब्ध है और इसे इस्तेमाल करना पहले से भी ज्यादा आसान हो गया है गूगल ने अपने एंटरप्राइज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग टूल गूगल मीट को अब जीमेल पर उपलब्ध करा दिया है जिससे अब सीधे जीमेल से यूजर्स गूगल मीट का इस्तेमाल कर पाएंगे।

गूगल मीट क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे करें?
गूगल मीट क्या है

गूगल मीट क्या है?

गूगल मीट एक सुरक्षित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग टूल है। इससे कहीं से भी सुरक्षित रूप से कनेक्ट, सहयोग और जश्न मना सकते है।गूगल मीट एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप है जो अलग-अलग स्थानों पर मौजूद लोगों को ऑनलाइन आने का मौका देती है। गूगल मीटिंग पर gridview ऐड और एक्सटेंशन है जिसे प्राप्त करना होगा। Google मीट के साथ, हर कोई 250 लोगों तक उच्च-गुणवत्ता की वीडियो मीटिंग सुरक्षित रूप से बना और उसमें शामिल हो सकता है।

गूगल ने अपनी ब्लॉग पोस्ट में ऐसा लिखा कि जीमेल में मीट के साथ ही अब आपकी से मीटिंग को सेकंड में आसानी से ज्वाइन या शुरू कर सकते हैं।इसका मकसद है क्या आपकी मदद कर सके और आप अपनी जरूरत के मुताबिक ईमेल और वीडियो मीटिंग के बीच आसानी से स्विच कर सकते हैं।

गूगल में यूजर्स को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अलग-अलग स्थानों पर काम करने वाले लोगों को साथ में लाने का एक ऑप्शन प्रदान करता है। लॉकडाउन में टीचर एक साथ बच्चों को लाने के लिए गूगल मीट का इस्तेमाल कर रहे हैं। वहीं क्वॉरेंटाइन के समय में गूगल मीट काफी मददगार साबित भी हो रहा है, क्योंकि इस मुश्किल घड़ी में एक साथ लोगों का आना बहुत मुश्किल है। ऐसे में कंपनी मीटिंग के लिए या फिर टीचर छात्रों से बात करने के लिए इस ऐप का इस्तेमाल कर रहे हैं।

बता दें कि यह सुविधा जी सूट एंटरप्राइज और जीतू एंटरप्राइज एजुकेशन एडमिशन के साथ उपलब्ध है। अकाउंट में साइन इन होने पर रिकॉर्ड कर सकते हैं। गूगल मीट यूजर्स को टीम प्रेजेंटेशन को रिकॉर्ड करने और बाद में सहकर्मियों के साथ शेयर करने का ऑप्शन भी प्रदान करता है। इसके साथ ट्रेनिंग मटेरियल को रिकॉर्ड कर सकते हैं, जिससे आप छात्र या फिर नए कर्मचारियों की डिमांड पर उपलब्ध भी करा सकें। इसके जरिए आप कॉन्फ्रेंस को भी रिकॉर्ड कर सकते हैं जिससे फॉरवर्ड कर सकते हैं जो उस वक्त मौजूद ना हो या नहीं थे। यूजर्स इन रिकॉर्ड को प्ले या शेयर या फिर डाउनलोड भी कर सकते हैं।

गूगल मैप के जरिए ग्रिड पर एक साथ लोगों को देखने के लिए ऐड ऑन करना पड़ेगा। इसके लिए प्रबंधक गूगल एडमिन कंसोल पर जाएगा और सभी के लिए grid-view एक्सटेंशन को एक्सेस प्रदान करने में मदद करेगा। ब्राउजर एक्टेंशन वीडियो कॉल में हिस्सा लेने वाले सभी कांटेक्ट के थंबनेल के साथ एक ग्रिड को इनेबल करता है।

जीमेल गूगल मीट को यूज कैसे करें?

दोस्त आपको जीमेल के साइड बार में Meet ऑप्शन दिखेगा। इस पॉइंट करने पर जॉइन नीतियां मीटिंग के दो ऑप्शन दिखाई देंगे। अब जिस पर भी आप क्लिक करेंगे तो एक नई विंडो खुल जाएगी। अगर आपको मीटिंग ज्वाइन करनी है तो join a meeting और शुरू करनी है यानी आप होस्ट कर रहे हैं तो start a meeting मीटिंग का ऑप्शन चुन सकते हैं।हाल ही में हैंग आउट मीट की जगह इसे Meet नाम दिया गया।

गूगल हैंगआउट गूगल के कंस्यूमर के लिए एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग टूल है। पिछले सप्ताह इस्तेमाल कर रहे एजुकेशन कस्टमर के लिए एक नई सिक्योरिटी फीचर्स जारी किए हैं। रॉयटर्स के मुताबिक आने वाले दिनों में स्कूल में और नए फीचर ऐड करेगा। इसमें लेआउट ऑप्शन भी शामिल है यानी एक साथ 16 पार्टिसिपेंट्स वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर पाएंगे। इसके अलावा कम रोशनी में बेहतरीन क्वालिटी और बैकग्राउंड नॉइस को फिल्टर करने का विकल्प उपलब्ध होगा।

गूगल मीट का उपयोग करने के लिए निम्नलिखित स्टेप्स को फॉलो करना होगा:

  • सबसे पहले गूगल मीटिंग खोलें और सेशन स्टार्ट करें।
  • इसके बाद पर्सन आइकन के बगल में टॉप दाएं कोने पर grid-view आइकन दिखाई पड़ेगा।
  • अब मीटिंग में सभी को स्क्रीन पर grid-view में प्रदर्शित करने के लिए आइकॉन पर क्लिक करें।
  • मीट सभी के बॉक्सओं को रिसाइज कर देगा ताकि सभी एक स्क्रीन में फिट हो जाए।

गूगल मीट की प्रमुख विशेषताऐं:

  • होस्ट असीमित उच्च परिभाषा वीडियो मीटिंग।
  • सुरक्षित रूप से मिलें – वीडियो मीटिंग्स को ट्रांज़िट में एन्क्रिप्ट किया जाता है और प्रोएक्टिव एंटी-एब्यूज़ के उपाय आपकी मीटिंग को सुरक्षित रखने में मदद करते हैं।
  • आसान पहुंच – बस एक लिंक साझा करें और आमंत्रित अतिथि डेस्कटॉप वेब ब्राउज़र या Google मीट मोबाइल ऐप से एक क्लिक के साथ जुड़ सकते हैं।
  • दस्तावेज़, स्लाइड, और अधिक प्रस्तुत करने के लिए अपनी स्क्रीन साझा करें।
  • गूगल स्पीच-टू-टेक्स्ट तकनीक द्वारा संचालित वास्तविक समय के कैप्शन के साथ पालन करें।
  • 250 व्यक्ति बैठकों के लिए बेहतर समर्थन।
  • वास्तविक समय कैप्शन।
  • किसी भी बैठक के लिए अंतर्राष्ट्रीय डायल-इन नंबर।
  • बग फिक्स और प्रदर्शन में सुधार।

गूगल मीट क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे करें?

Leave a Reply